UPSC EXAM 2024-[IN HINDI]

UPSC (Union Public Service Commission) UPSC EXAM 2024: एक प्रसिद्ध और महत्वपूर्ण परीक्षा है , जो भारत सरकार द्वारा कराई जाटi है . इस परीक्षा के द्वारा भारत सरकार कई सरकारी नौकरियों के लिए प्रादेशिक , राष्ट्रिय और केंद्रीय स्टार पर अधिकारीयों की भर्ती करती है . इस आर्टिकल में हम UPSC EXAM 2024: परीक्षा के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे .

यूपीएससी (UPSC) सिविल सेवा परीक्षा का पैटर्न निम्नलिखित होता है:प्रारंभिक परीक्षा (प्रीलिम्स):प्रारंभिक परीक्षा वस्तुनिष्ठ प्रकार की होती है और इसमें दो पेपर होते हैं: पेपर-I और पेपर-II।पेपर-I को सामान्य अध्ययन का पेपर कहा जाता है और इसमें विभिन्न विषयों पर प्रश्न पूछे जाते हैं।पेपर-II को सिविल सेवा योग्यता परीक्षा (CSAT) कहा जाता है और इसमें उम्मीदवारों के क्षमता और समझ के कौशलों का मूल्यांकन किया जाता है।दोनों पेपर्स अंग्रेज़ी और हिंदी भाषा में उपलब्ध होते हैं।प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए पेपर-I में कम से कम 33% अंक और पेपर-II में कम से कम 33% अंक की आवश्यकता होती है।मुख्य परीक्षा (मेन्स):मुख्य परीक्षा लिखित प्रकार की होती है और इसमें नौ पेपर होते हैं।दो पेपर भाषा पेपर होते हैं जिनमें उम्मीदवार अपनी भाषा और अंग्रेज़ी चुन सकते हैं।शेष सात पेपर सामान्य अध्ययन के होते हैं, जिनमें विभिन्न विषयों पर प्रश्न पूछे जाते हैं।प्रत्येक पेपर अलग-अलग अंकों में होते हैं और परीक्षा दिनांकों के अनुसार आयोजित किए जाते हैं।व्यक्तित्व परीक्षा (साक्षात्कार):मुख्य परीक्षा को सफलतापूर्वक पास करने वाले उम्मीदवारों को व्यक्तित्व परीक्षा (साक्षात्कार) दौर में बुलाया जाता है।साक्षात्कार 275 अंकों का होता है और यह उम्मीदवार के व्यक्तित्व, संचार कौशल, ज्ञान, और सिविल सेवा में करियर के लिए सामान्य उपयुक्तता का मूल्यांकन करता है।

UPSC EXAM 2024

UPSC परीक्षा दो भागों में होती है :Pratham भाग : Preliminary examination द्वितीय भाग : Mains exam UPSC परीक्षा आम तौर पर हर साल आयोजित होती है . इस परीक्षा के माध्यम से भारत सरकार के विभिन्न विभागों , जैसे IAS, IPS, IFS अदि में अधिकारियों भारती की जाती हैं . प्रारंभिक परीक्षा :Prathamik परीक्षा ऑब्जेक्टिव टाइप की होती है .Iska उद्देश्य उम्मीदवारों की संरचना और ईमानदारी को प्रमाणित करना होता है .Prarambhik परीक्षा दो पपेरों से मिलकर सम्मिलित होती है .Pratham पेपर सामान्य प्रतिष्ठानों में निहित सामग्री को आर्थिक , सामाजिक और सांस्कृतिक दृष्टि से तय करते हुए प्रश्नों पर आधारित होता है . द्वितीय पेपर राज्यों के अधिकारीयों द्वारा संचालित किये जाते है .Mains परीक्षा :Mains परीक्षा upsc परीक्षा का द्वितीय भाग होता है .is परीक्षा के चयन प्रक्रिया प्रतियोगिता से संबंधित राज्यों के प्रमुख और प्रसिद्द विद्यालयों के सदस्यों को दिए गए जनवितयों के आधार पर होता है .Mains परीक्षा दलीलों के व्यक्तिगत विचारों , अभिभावकों और सुझावों पर स्थायित्व और सामर्थ्य को मूल्याङ्कन करती है .is परीक्षा में चयनकर्ता दलीलों के दर्शाने क्षमता , व्यक्तित्व और साहित्यिक विश्लेषण के आधार पर उनके उत्तर को मूल्याङ्कन करते है .taiyari के लिए उपयोगी टिप्स साक्षरता :Kisi भी प्रश्न को समझने और उत्तर देने के लिए सही ज्ञान और साक्षरता की आवश्यकता होती है .Taiyari के समय कई पुस्तकें पढ़ना , समाचार पत्रों का अनुशीलन करना और सुरक्षित इंटरनेट के माध्यम से जानकारी प्राप्त करने में मदद करती है .प्रारंभिक परीक्षा हेतु तयारी : प्रारंभिक परीक्षा में सामान्य ज्ञान की महत्वपूर्ण है . प्रश्नों को समझने और उच्चस्तर की समझ के लिए समाचार पत्र , TV कार्यक्रम और सार्वजनिक सम्बंधित ग्रंथों का अध्ययन करना बेहद ज़रूरी है .

Mains pariksha Ki Taiyari:

Mains परीक्षा में नीति , राज निति , इतिहास , भूगोल , अर्थशास्त्र अदि विषयों की गहराई में ज्ञान की आवश्यकता होती है .व्यक्तिगत अभ्यास , पुस्तकोवों का अध्ययन , सहयोगी ज्ञान और सुविचार की अधिक प्राप्ति के लिए समस्या के रूप में आकर समस्याओं का समाधान करना , व्यक्तिगत प्रश्नोत्तरों का दृष्टिगत करके ज्ञान को अटल बनाये रखना बेहद ज़रूरी है .परीक्षा हेतु मनोविज्ञानिक तयारी भी जरुरी हैं

ध्यान और सोचने की क्षमता : तयारी के लिए ध्यान और सोचने की क्षमता को बढ़ाना बेहद ज़रूरी है। प्राणायाम , योग और ध्यान आसान के आचरण से ध्यान और सोचने की क्षमता को बढ़ाया जा सकता है .समय प्रबंधन : तयारी के लिए समय प्रबंधन एक महत्वपूर्ण पार्ट है .समय की सही प्रबंधन से तयारी में अधिक सफलता प्राप्त कर सकते है। अपने दैनिक जीवन में केवल तयारी के लिए समय नियोजित करें .उच्चतर माध्यम की मदद Coaching संस्था :उच्चतर माध्यम की मदद तयारी के लिए बेहद महत्वपूर्ण होती है .सही कोचिंग संस्था आपके तयारी को स्पष्टीकरण , मार्गदर्शन और प्रतिभा में वृद्धि करने में मदद करेगी .Online और offline तयारी : आजकल online उपयोग करके तयारी भी संभव है .Online और offline दोनों प्रकार की तयारी जिस प्रकार से व्यक्ति की जरुरत के अनुरूप हो , वो आपस में मिलकर कर सकते है .परीक्षा के दिनों में ध्यान की आवश्यकता प्रत्याहार और ध्यान : परीक्षा के दिनों में ध्यान और अभ्यास सर्वाधिक महत्वपूर्ण है .ध्यान की प्राणायाम और ध्यान के साथ करने से दिमाग शांत होता है और सही की और ध्यान केंद्रित होता है .आराम और नींद की अव्यवस्था :परीक्षा के दिनों में नींद पूरी करने और आराम करने का समय देना बेहद जरुरी है .नींद का पूरा करने से दिमाग शांत रहता है और परीक्षा देने के लिए यादाश ताकतवर बनती है .परीक्षा हेतु तर्कशक्ति की प्राप्ति सांख्यिकीय तर्क :परीक्षा में सांख्यिकीय तर्क की प्राप्ति का बेहद महत्वपूर्ण है .सांख्यिकीय तर्क से प्रतिक्रिया के रूप में समस्या का समाधान किया जा सकता है .विचार विजय :तयारी के वक्त विचार विजय का प्रशिक्षण करना उत्तम होता है .विचार विजय में जो व्यक्ति सबसे अच्छे और कुशल हो जाता है , उसे सबसे आशा होती है। कन्क्लूसिओं UPSC परीक्षा भारत सरकार के लिए बेहद महत्वपूर्ण है और इस परीक्षा में कमाया हुआ सफर व्यक्ति का जीवन बदल सकता है . इसलिए , जो भी upsc परीक्षा के लिए तैयार होता है , उसको पूरी निष्ठां और MEHNAT के साथ अपनी तयारी को पूरा करना चाहिए . साथ ही , मनोबल और पक्षपात की कमी को दूर करके अपनी कमियों को समझे और उन पर काम करे . यदि किसी को upsc परीक्षा की तयारी में किसी भी प्रकार की मदद चाहिए तो सही मार्गदर्शन और उचित सुझाव के लिए कोचिंग संस्था और उपस्क परीक्षा के अनुभवी लोगो से संपर्क कर सकते है . कामयाबी हर भारतीय जीवन सामाजिक एवं आर्थिक विकास में अग्रसर रतनी चाहिए .

READ ALSO : EXAM TIPS

UPSC EXAM 2024 SYLLABUS

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की परीक्षा के सिलेबस

पेपर 1 – सामान्य अध्ययन:

यह सिलेबस आपको UPSC की सिविल सेवा परीक्षा के लिए तैयारी करने में मदद करेगा। परीक्षा के अन्य अपडेट और विवरण के लिए, आप UPSC की आधिकारिक वेबसाइट या सम्बंधित सूचना स्रोतों का भी उपयोग कर सकते हैं।

द्वितीय विकल्पी भाषा (अंग्रेजी, हिंदी, संस्कृत, उर्दू)

अरबी भाषा

शास्त्रीय भाषा

शास्त्रीय भाषा

एथनोग्राफी

भूगोल

कला

वाद्य संगीत

फ़िल्म संगीत

संगीत

जनसंख्या विज्ञान

जनसंख्या शिक्षा

इतिहास

गृह विज्ञान

विकल्पी विषय (पेपर 3 और 4 में आपको एक विषय चुनना होगा):

निबंध

संपादन

पेपर 2 – भाषा (केवल अर्ध-वार्षिक परीक्षा के लिए):

पर्यावरण और जनसंख्या

विज्ञान और प्रौद्योगिकी

भारतीय अर्थव्यवस्था

भारतीय राजनीति

भारतीय संस्कृति और विरासत

भूगोल

इतिहास

UPSC EXAM 2024 SYLLABUS

जैसा कि मैंने पहले भी बताया है, मेरे ज्ञान के अनुसार सितंबर 2021 तक UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) सिविल सेवा परीक्षा को तीन चरणों में आयोजित किया जाता है: प्रारंभिक परीक्षा (प्रीलिम्स), मुख्य परीक्षा (मेन्स) और व्यक्तित्व परीक्षा (साक्षात्कार)। उस समय तक किए गए बाद के बदलाव या अपडेट का पता नहीं होता है, इसलिए सबसे हाल के और सटीक जानकारी के लिए आधिकारिक UPSC वेबसाइट पर जांच करना महत्वपूर्ण है। फिर भी, यहां UPSC सिविल सेवा परीक्षा के सिलेबस और परीक्षा पैटर्न का एक विस्तृत अवलोकन दिया गया है:

प्रारंभिक परीक्षा (प्रीलिम्स):

प्रारंभिक परीक्षा में एक वस्तुनिष्ठ प्रकार की परीक्षा होती है (बहुविकल्पीय प्रश्न – MCQs)।
इसमें दो पेपर होते हैं: पेपर-I और पेपर-II।
दोनों पेपर एक-दूसरे के लिए 200 अंक होते हैं।
पेपर-I में सामान्य अध्ययन (General Studies) के विषयों पर प्रश्न होते हैं, जैसे कि वर्तमान घटनाएँ, भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भारत और विश्व भूगोल, भारतीय शासन और शासन-प्रबंधन, आर्थिक और सामाजिक विकास, सामान्य विज्ञान आदि।
पेपर-II को सिविल सेवा योग्यता परीक्षा (Civil Services Aptitude Test – CSAT) कहा जाता है और इसमें उम्मीदवारों के क्षमता और समझ के कौशलों का मूल्यांकन किया जाता है।
ध्यान दें: पेपर-II (CSAT) की योग्यता परीक्षा की नैतिकता, और योग्यता परीक्षा में कम से कम 33% अंक प्राप्त करने वाले उम्मीदवार ही पेपर-I के मूल्यांकन के योग्य होते हैं।

मुख्य परीक्षा (मेन्स):

मुख्य परीक्षा एक लिखित परीक्षा होती है, जिसमें नौ पेपर होते हैं।
पेपर-A और पेपर-B भाषा पेपर होते हैं। उम्मीदवार इन पेपरों के लिए संघ के संविधान के आठवें अनुसूची से एक भारतीय भाषा और अंग्रेजी चुन सकते हैं।
पेपर-I से पेपर-VII तक सामान्य अध्ययन के पेपर होते हैं, जिनमें भारतीय विरासत और संस्कृति, शासन, सामाजिक न्याय, अंतरराष्ट्रीय संबंध, नैतिकता, ईमानदारी, और योग्यता आदि के विषय होते हैं।
पेपर-VIII और पेपर-IX वैकल्पिक विषय पेपर होते हैं, जिसमें उम्मीदवार UPSC की विषय सूची से एक वैकल्पिक विषय चुन सकते हैं।

Read Also it- Elon Musk biography


व्यक्तित्व परीक्षा (साक्षात्कार):

मुख्य परीक्षा को सफलतापूर्वक पास करने वाले उम्मीदवारों को व्यक्तित्व परीक्षा (साक्षात्कार) दौर में बुलाया जाता है।
साक्षात्कार 275 अंकों का होता है और यह उम्मीदवार के व्यक्तित्व, संचार कौशल, ज्ञान, और सिविल सेवा में करियर के लिए सामान्य उपयुक्तता का मूल्यांकन करता है।
यह ध्यान देने के लिए महत्वपूर्ण है कि प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा के सिलेबस का विस्तार है और विभिन्न विषयों से विभिन्न विषयों का समावेश करता है। उम्मीदवारों को UPSC के निर्धारित सिलेबस में उलझने से बचकर ध्यानपूर्वक पढ़ना और तैयारी करना चाहिए।

Tips & Tricks for UPSC Exam 2024

यूपीएससी (UPSC) की तैयारी के लिए निम्नलिखित कुछ महत्वपूर्ण टिप्स और ट्रिक्स हैं।

  1. सिलेबस का विश्लेषण करें: सबसे पहले, UPSC परीक्षा के सिलेबस को ध्यान से पढ़ें और समझें। सिलेबस का अध्ययन करके आपको यह बता मिलेगा कि आपको कौन-कौन से विषयों पर ज्यादा ध्यान देना होगा।
  2. अध्ययन मॉटीवेशन बनाएं: UPSC की तैयारी एक लंबा और मानसिकता का काम है। इसलिए, आपको संवेदनशीलता के साथ प्रतिस्पर्धा के लिए अपने लक्ष्य के प्रति मॉटीवेशन बनाए रखना होगा।
  3. अच्छी स्टडी मटेरियल चुनें: UPSC की तैयारी के लिए अच्छी किताबें और स्टडी मटेरियल चुनना अत्यंत महत्वपूर्ण है। विभिन्न स्रोतों से अध्ययन करें और अच्छे नोट्स बनाएं।
  4. नियमित अभ्यास: दैनिक, साप्ताहिक, और मासिक अभ्यास नियमित रूप से करें। स्थिरता और नियमितता से अध्ययन करने से आपका प्रदर्शन सुधारेगा।
  5. अध्ययन ग्रुप या संवाद समूह बनाएं: अपने मित्रों या सहकर्मियों के साथ अध्ययन ग्रुप बनाएं। इससे आपको अध्ययन में समय की बचत होगी और आप एक-दूसरे के साथ ज्ञान विनिमय कर सकते हैं।
  6. पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रिकाएँ हल करें: पिछले सालों के प्रश्न पत्रिकाएँ हल करके, आप UPSC परीक्षा के पैटर्न को समझ सकते हैं और विभिन्न विषयों पर कौन-कौन से प्रकार के प्रश्न पूछे जा सकते हैं, यह देख सकते हैं।
  7. नोट्स बनाएं: अध्ययन के दौरान, जरूरी बिंदुओं को नोट्स में लिखें। यह नोट्स आपकी तैयारी को समीक्षा करने और समय की बचत करने में मदद करेंगे।
  8. स्वास्थ्य का ध्यान रखें: अध्ययन के साथ-साथ अपने स्वास्थ्य का भी ख्याल रखें। नियमित व्यायाम, सही आहार, और अच्छी नींद लेना शरीर और मस्तिष्क के लिए आवश्यक है।
  9. परीक्षा के दिन की तैयारी: परीक्षा के दिन आपको शांति बनाए रखना और सभी जरूरी दस्तावेजों को साथ में रखना महत्वपूर्ण है।

UPSC सिविल सेवा परीक्षा, उसके सिलेबस और परीक्षा पैटर्न के सबसे हाल की और सटीक जानकारी के लिए आधिकारिक UPSC वेबसाइट पर जाएं: https://www.upsc.gov.in

UPSC द्वारा कौन सी परीक्षा आयोजित की जाती है?

UPSC (Union Public Service Commission) द्वारा विभिन्न सरकारी नौकरी के लिए कई परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। यह परीक्षाएं भारतीय संविधान के अनुसार भारतीय संघ सेवा (Indian Civil Services) और अन्य विभागीय संविधानिक पदों के लिए चयन के लिए कार्यक्रम का हिस्सा हैं। इनमें से कुछ प्रमुख परीक्षाएं निम्नलिखित हैं:
IAS (Indian Administrative Service) परीक्षा: IAS भारतीय संघ सेवा की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा है, जिसमें विभिन्न शासनिक पदों के लिए भर्ती की जाती है।
IPS (Indian Police Service) परीक्षा: IPS भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारीयों की भर्ती के लिए आयोजित की जाती है।
IFS (Indian Foreign Service) परीक्षा: IFS भारतीय विदेश सेवा के लिए चयन करती है और भारत के विदेश दूतावासों में कार्य करने का मौका प्रदान करती है।
CDS (Combined Defence Services) परीक्षा: CDS परीक्षा भारतीय रक्षा सेवाओं (भारतीय वायु सेना, भारतीय नौसेना, और भारतीय थल सेना) में अधिकारीयों की भर्ती के लिए होती है।
NDA (National Defence Academy) परीक्षा: NDA परीक्षा भारतीय रक्षा सेना में अधिकारी बनने के लिए नामांकन के लिए होती है और इसमें 10+2 पास उम्मीदवारों के लिए योग्यता होती है।
CAPF (Central Armed Police Forces) परीक्षा: CAPF परीक्षा भारतीय केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (बॉर्डर सिक्योरिटी फ़ोर्स, सेंट्रल रिजर्व पुलिस बल, सशस्त्र सीमा बल, इत्यादि) में अधिकारीयों की भर्ती के लिए होती है।
यह केवल कुछ प्रमुख परीक्षाओं की सूची है और UPSC अन्य पदों के लिए भी विभिन्न परीक्षाएं आयोजित कर सकता है। प्रत्येक परीक्षा की योग्यता और पाठ्यक्रम में अलग-अलग विभाग और पदों के अनुसार भिन्नता होती है।

UPSC 2024 फॉर्म भरने के लिए कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता है?

UPSC (Union Public Service Commission) द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं के लिए फॉर्म भरने के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है:
आवेदन पत्र: UPSC की आधिकारिक वेबसाइट से प्राप्त किया गया आवेदन पत्र भरें। इसमें आपकी व्यक्तिगत जानकारी, परीक्षा का नाम, परीक्षा केंद्र की विवरण और अन्य आवश्यक जानकारी भरनी होती है।
फ़ोटोग्राफ: प्रारूपित आकार में अपनी फोटो अपलोड करें। आम तौर पर, फोटो का आकार 3.5 x 4.5 सेंटीमीटर और फ़ाइल फॉर्मेट JPEG होता है।
हस्ताक्षर: अपने नाम के साथ अपना हस्ताक्षर अपलोड करें। यह दस्तावेज़ आपकी पहचान को सत्यापित करता है।
आवेदन शुल्क: आवेदन पत्र भरने के लिए आपको आवेदन शुल्क जमा करना हो सकता है।
परीक्षा शुल्क: कुछ विशेष परीक्षाओं के लिए परीक्षा शुल्क को भी जमा करना पड़ सकता है।
शैक्षिक प्रमाण पत्र: आपके शैक्षिक योग्यता की प्रमाणित प्रतियाँ और योग्यता संबंधी दस्तावेजों की कॉपियां।
जाति प्रमाण पत्र (यदि लागू हो): यदि आप आरक्षित श्रेणी से हैं, तो जाति प्रमाण पत्र की आवश्यकता हो सकती है।
जन्मतिथि प्रमाण पत्र: जन्मतिथि को सत्यापित करने के लिए जन्मतिथि प्रमाण पत्र की कॉपी।
साक्षात्कार पत्र (यदि लागू हो): जब आपका साक्षात्कार अनुसंधान द्वारा संपादित हो, तो आपको साक्षात्कार पत्र भी जमा करने की आवश्यकता हो सकती है।
कृपया ध्यान दें कि उपर्युक्त सूची आम तौर पर है और यह अलग-अलग परीक्षाओं और विभागों के अनुसार बदल सकती है। इसलिए, फॉर्म भरने से पहले आधिकारिक वेबसाइट UPSC पर विशेष निर्देशों को पढ़ें और अपडेट करें।

यूपीएससी प्रीलिम्स 2023 के लिए आवेदन कैसे करें?

यूपीएससी प्रीलिम्स 2023 के लिए आवेदन www.upsc.gov.in


Discover more from

Subscribe to get the latest posts to your email.

1 thought on “UPSC EXAM 2024-[IN HINDI]”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

Scroll to Top
Capture your favorite moments with these videography tips Tips for living green daily Power of Sleep: Your Ultimate Guide to Restful Nights and Rejuvenated Days” Trendy Summer outfits that will keep you healthy and fit . Beginner guide to baking bread