बाल विकास और शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण प्रश्न- उत्तर | Top-100 Child Development & Pedagogy Questions for CTET

बाल विकास और शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण प्रश्न- उत्तर | Top-100 Child Development & Pedagogy Questions for CTET

शिक्षक पात्रता परीक्षा जैसे की – CTET, UPTET, HPTET, PSTET,BPSC TET ,MPTET ,etc में इससे सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं | अगर आप भी शिक्षक भर्ती परीक्षा की तैयारी करते हैं तो इस बाल विकास और शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण प्रश्न- उत्तर Ctet cdp important questions in hindi with answers पोस्ट को पूरा जरुर पढ़ें | इस पोस्ट में आपको Important Child Development & Pedagogy के महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर दिए जा रहे जिसे आप पढ़ परीक्षा में अच्छे मार्क ला सकते हैं | इसलिए Top-30 Child Development & Pedagogy इस पोस्ट के माध्यम से पूरा जरुर देखें |

Child Development & Pedagogy Important Questions in Hindi |CTET CDP Notes |CTET CDP ONE Liner | CTET CDP test

 बाल विकास महत्‍वपूर्ण प्रश्‍न के सेट को आप टॉपिक वाइस भी हल कर सकते है हम ने सभी CDP MCQ TOPIC WISE देने का प्रयास किया है अगर आपको ये बाल विकास से संबंधित प्रश्‍न उत्तर प्रश्‍न आए तो आपने दोस्‍तो के साथ जरूर शेयर करे । 

बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र प्रश्न हाइलाइट्स

परीक्षा  सीटीईटी   और अन्य टीईटी
कुल सवाल30 प्रश्न (प्रत्येक पेपर में)
कुल मार्क30 अंक (प्रत्येक पेपर में)
अंकनसही उत्तर के लिए 1 अंक
नकारात्मक अंकननहीं
प्रश्न पैटर्नवस्तुनिष्ठ प्रकार
भाषाद्विभाषिक
CTET पेपर 1 के लिए कठिनाई स्तरआठवीं कक्षा तक
CTET पेपर 2 के लिए कठिनाई स्तर10वीं कक्षा तक
हिंदी का परीक्षा पैटर्नपेपर I के लिए प्राथमिक स्तर और पेपर- II के लिए उच्च प्राथमिक स्तर पर आधारित।
बाल विकास और शिक्षाशास्त्र वेटेजबाल विकास – 15 प्रश्न समावेशी शिक्षा की अवधारणा और विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को समझना – 5 प्रश्न सीखना और शिक्षाशास्त्र- 10 प्रश्न

शिक्षण परीक्षा में बाल विकास और शिक्षाशास्त्र प्रश्नों का महत्व:

बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र अनुभाग सभी टीईटी परीक्षाओं में पूछा जाता है। इसमें प्रत्येक पेपर यानी पेपर I और पेपर II में 30 प्रश्न शामिल हैं। प्रत्येक प्रश्न एक अंक का है। यहां हम सूचीबद्ध हैं कि किस परीक्षा में बाल विकास और शिक्षाशास्त्र से प्रश्न पूछे जाएंगे

टीईटी परीक्षाकुल मार्कपूछे गए प्रश्नों की संख्या
CTET Paper 130 अंक30
CTET Paper 230 अंक30
रीट पेपर 130 अंक30
आरईईटी पेपर 230 अंक30
यूटीईटी पेपर 130 अंक30
यूटीईटी पेपर 230 अंक30
एमपीटीईटी प्राथमिक शिक्षक30 अंक30
UGC NET10 अंक5
डीएसएसएसबी पीआरटी100100
डीएसएसएसबी टीजीटी10-1510-15
डीएसएसएसबी पीजीटी20-2520-25
केवीएस पीआरटी2020
केवीएस टीजीटी4040
केवीएस पीजीटी2020
बेहद टाइट2020
एनवीएस टीजीटी1515
एनवीएस पीजीटी2020

CTET परीक्षा में पूछे जाने वाले महत्वपूर्ण विषय

बाल विकास और शिक्षाशास्त्र अनुभाग पर महत्वपूर्ण प्रश्नों की जाँच करें। CTET 2023 पूरे देश के विभिन्न शहरों में कई भाषाओं में आयोजित किया जाएगा। चूंकि उम्मीदवारों के पास तैयारी के लिए ज्यादा समय नहीं बचा है और यही वह समय है जब उम्मीदवारों को मुख्य और मुख्य विषय पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।

क्र.सं.विषयअधिकतर पूछे जाने वाले विषय
1.वृद्धि एवं विकासप्रभावित करने वाले साधन
2.संज्ञानात्मक सिद्धांतपियागेट, कोहलबर्ग, वायगोत्स्की
3.बुद्धि एवं उसके सिद्धांतआईक्यू, जेडपीडी, अन्य खुफिया सिद्धांत और परीक्षण।
4.भाषा सिद्धांतभाषा अधिग्रहण और इसकी चुनौतियाँ, चॉम्स्की और वायगोत्स्की भाषा
5.सीखने की अयोग्यताडिस्लेक्सिया, ऑटिज्म, एडीएचडी और विशेष रूप से विकलांग बच्चे
6.सीखने के सिद्धांतसीखने के नियम, सिद्धांत, व्यवहारवाद सिद्धांत, शिक्षण विधियाँ
7.प्रेरणामास्लो पदानुक्रम, सुदृढीकरण और सजा
8.अनुभूति एवं भावनाएँफ्रायड का व्यक्तित्व सिद्धांत
9.आनुवंशिकता एवं पर्यावरणसीखने को प्रभावित करने वाले कारक
10.लैंगिक मुद्दोंअनुप्रयोग आधारित प्रश्न
11।समावेशी शिक्षासरकार. मानदंड, परिभाषा, विशेषताएँ
12.मूल्यांकनस्कूल-आधारित मूल्यांकन, रचनात्मक मूल्यांकन, योगात्मक मूल्यांकन, सीसीई (शैक्षिक और सह-शैक्षिक), प्रश्नों के प्रकार
13.एनसीएफ 2005 और आरटीई 2009सरकार. मानदंड और शिक्षा पर उनका प्रभाव
14.सिद्धांत और उनके प्रणेतावायगोत्स्की, कोहलबर्ग और अन्य
15.विभिन्न मनोवैज्ञानिकों द्वारा कथन एवं परिभाषास्किनर, गेस्टाल्ट, कोहलबर्ग। आदि जिसमें बुद्धिमत्ता, व्यक्तित्व व्यवहारवाद आदि शामिल हैं।

CDP MCQ IN HINDI :

ये सभी प्रश्‍न Child development of pedagogy Quiz के रूप में देखने को मिलेगे जो आप सबसे पहले प्रश्‍न को अच्‍छे से पढना है फिर उसके बाद विकल्‍प को अच्‍छे से पढ़ना है फिर जा कर अपने उत्तर की जॉच करनी है । जिससे आपको अपनी तैयारी का पता चल सकेगा । 

बाल विकास की अवधारणा एवं इसका अधिगम से संबंध

बाल विकस की अवधारणा MCQ :

1.बाल विकास में अध्‍ययन किया जाता है 

  1. गर्भावस्‍था से किशोरावस्‍था 
  2. गर्भावस्‍था से बाल्‍यावस्‍था 
  3. गर्भावस्‍था से जीवनपर्यन्‍त तक 
  4. उपर्युक्‍त में से कौन नही 

उत्तर – 3 गर्भावस्‍था से जीवनपर्यन्‍त तक

2.बाल मनोविज्ञान तथा बाल विकास में प्रमुख अंतर है 

  1. अध्‍ययन पद्धतियों में अंतर 
  2. क्षेत्र में अंतर 
  3. कार्य में अंतर 
  4. उपर्युकत में से कोई नही 

उत्तर -2 क्षेत्र में अंतर क

3. विकास का वही संबंध परिपक्‍वता से है जो उद्दीपन का ……..है ?

  1. परिवर्तन 
  2. प्रतिक्रिया 
  3. प्रयास 
  4. परिणाम 


उत्तर – 2.प्रतिक्रिया

4.शैशवावस्‍था में बच्‍चो के क्रियाकलाप ….. होते है 

  1. मूल प्रवृत्‍यात्‍मक  
  2. संरक्षित  
  3. संज्ञानात्‍मक 
  4. संवेगात्‍मक 

उत्तर – 1 मूल प्रवृत्‍यात्‍मक

5. तनाव और क्रोध की अवस्‍था है  

  1. शैशवावस्‍था 
  2. किशोरावस्‍था 
  3. बाल्‍यावस्‍था 
  4. वृद्धावस्‍था 

Child Develovpment padagogy Important Questions

Math Padagogy Impotant Questions Answers

Hindi Padagogy Important Question Answer

उत्तर – 2 किशोरावस्‍था

6.शारीरिक वृद्धि और विकास को कहते है  

  1. तत्‍परता 
  2. अभिवृद्धि 
  3. गतिशीलता 
  4. आनुवंशिकता 


उत्तर – 2 अभिवृद्धि

7.बाल मनोविज्ञान का केन्‍द्र बिन्‍दु है ?

  1. अच्‍छा शिक्षक 
  2. बालक 
  3. शिक्षण प्रक्रिया 
  4. विद्यालय 


उत्तर – 2 बालक

8. निम्‍न लिखित में से कौन सा विकास का सिद्धांत नही है ?

  1. विकास लम्‍बवत् न होकर वर्तुलाकार होता है 
  2. विकास क्रमबद्ध होता है 
  3. विकास निरन्‍तर होता है 
  4. विकास मशीनी प्रक्रिया है 


उत्तर – 4 विकास मशीनी प्रक्रिया है

9. शैशवावस्‍था की मुख्‍य विशेषता क्‍या नही है ?

  1. सीखने की प्रक्रिया में तीव्रता 
  2. जिज्ञासा की प्रवृत्ति 
  3. अनुकरण द्वारा सीखने की प्रवृत्ति 
  4. चिन्‍तन प्रक्रिया 


उत्तर – 4. चिन्‍तन प्रक्रिया

10.शैशव काल की अवधि है ?

  1. जन्‍म से एक वर्ष तक 
  2. दो वर्ष से तीन वर्ष तक 
  3. जन्‍म से तीन वर्ष तक 
  4. जन्‍म से दो वर्ष तक 


उत्तर – 4. जन्‍म से दो वर्ष तक

11. निम्‍न में से अध्‍यापन अधिगम का सबसे प्रभावशाली माध्‍यम कौन सा है

  1. विषय वस्‍तु को यंत्रवत याद करना
  2. संकल्‍पनाओ के बीच संबंध खोजना
  3. बिना विश्‍लेषण के अवलोकन करना
  4. अनुकरण / नकल और दोहराना

उत्तर – 2 संकल्‍पनाओ के बीच संबंध खोजना

12.शर्मिदगी …………

  1. का संज्ञान से कोई संबंध नही है
  2. का संज्ञान पर नकारात्‍मक प्रभाव पड सकता है
  3. बच्‍चो को अधिगम हेतु अभिप्रेरित करने के लिए बहुत प्रभावशाली है
  4. के भाव को अध्‍यापन अधिगम प्रक्रिया में बारंबार पैदा करना चाहिए

उत्तर – 2 का संज्ञान पर नकारात्‍मक प्रभाव पड सकता है

13. सर्जनात्‍मक की पहचान का प्रमुख लक्षण क्‍या है

  1. कम परिज्ञानता / बोधगम्‍यता
  2. अपसारी चिंतन
  3. अतिसक्रियता
  4. असतर्कता

उत्तर -2 अपसारी चिंतन

14. अधिगम कठिनाई से जुझते छात्रो की जरूरतो को संबोधित करने के लिए , एक अध्‍यापक को क्‍या नही करना चाहिए

  1. दृश्‍य श्रव्‍य सामग्रियों का इस्‍तेमाल
  2. संरचनात्‍मक शिक्षाशास्‍त्रीय उपागमो का इस्‍तेमाल
  3. व्‍यक्तिगत शैक्षिक योजना बनाना
  4. शिक्षाशास्‍त्र और आकलन की जटिल संरचनाओ का प्रयोग

उत्तर -4 शिक्षाशास्‍त्र और आकलन की जटिल संरचनाओ का प्रयोग

15. जन्‍म से किशोरावस्‍था तक बच्‍चो मे विकास किस क्रम में होता है

  1. सांवेदिक, मूत्र , अमूर्त
  2. अमूर्त , सांवेदिक , मूर्त
  3. मूर्त , अमूर्त , सांवेदिक
  4. अमूर्त , मूर्त , सांवेदिक

उत्तर -1 सां‍वेदिक , मूर्त , अमूर्त

Q. निम्नलिखित में से किस मनोवैज्ञानिक ने प्रस्तावित किया है कि बच्चों का चिंतन गुणात्मक रूप से वयस्कों की अपेक्षा अलग होता है ?

A. हॉवर्ड गार्डनर
B. लॉरेंस कोलबर्ग
C. जीन पियाजे
D. लेव वायगोत्स्की

C. जीन पियाजे

Q. प्रतिकूल परिस्थितियों और वंचित पृष्ठभूमि वाले अधिगमकर्ताओं को संबोधित करने के लिए निम्नलिखित में से कौन सी पद्धति प्रभावशाली नहीं है?

A. विद्यार्थियों को संतुलित चुनौतीपूर्ण लक्ष्यों के लिए अभिप्रेरित करना और उपयुक्त शिक्षण सहायता उपलब्ध कराना।
B. कार्यकलापों के लिए सहयोगी समूह बनाना और विद्यार्थियों को एक दूसरे का समर्थन करने के लिए प्रोत्साहित करना।
C. अधिगमकर्ताओं से बातचीत करके उनकी
आवश्यकताओं और उनके सम्मुख आई चुनौतियों को समझना।
D. अधिगमकर्ताओं को विद्यालय के बाहर ट्यूशन पढ़ने के लिए कहना, जिससे कि अध्यापक को उन पर अधिक ध्यान न देना पड़े।

D. अधिगमकर्ताओं को विद्यालय के बाहर ट्यूशन पढ़ने के लिए कहना, जिससे कि अध्यापक को उन पर अधिक ध्यान न देना पड़े।

Q. जीन पियाजे के अनुसार बच्चे अमूर्त संक्रियात्मक अवस्था में –

A. संरक्षण, वर्गीकरण व श्रेणीबद्धता करने में सक्षम नहीं हैं।
B. प्रतीकात्मक और सांकेतिक खेलों में भाग लेना प्रारंभ करते हैं।
C. परिकल्पित निगमनात्मक तर्क और प्रतिज्ञप्ति चिंतन करने में समर्थ हैं।
D. केंद्रीकरण और अनुत्क्रमणीय सोच से आबद्ध हैं।

Ans C. परिकल्पित निगमनात्मक तर्क और प्रतिज्ञप्ति चिंतन करने में समर्थ हैं।

Q. बाल्यावस्था की अवधि में विकास –

A. में केवल परिमाणात्मक परिवर्तन होते हैं।
B. अनियमित और असंबद्ध होता है।
C. धीमी गति से होता है एवं उसे मापा नहीं . जा सकता।
D. बहुस्तरीय और मिश्रित होता है।

Q. लेव वायगोत्स्की के अनुसार —

A. बच्चों का संज्ञानात्मक विकास चरणों में … होता है।
B. स्कीमा के परिपक्कन से बच्चों में .. संज्ञानात्मक विकास अग्रसर होता है।
C. बच्चों के संज्ञानात्मक विकास में भाषा की . एक महत्त्वपूर्ण भूमिका है।
D. बच्चे ‘भाषा अधिग्रहण यंत्र’ द्वारा भाषा सीखते हैं।

Ans C. बच्चों के संज्ञानात्मक विकास में भाषा की . एक महत्त्वपूर्ण भूमिका है।

Q. बाल-केंद्रित कक्षा वह है, जिसमें

A. बच्चों के व्यवहार को निदेशित करने के लिए अध्यापक पुरस्कार और दंड का प्रयोग करता है।
B. अध्यापक लचीला है और प्रत्येक बच्चे की व्यक्तिगत आवश्यकताओं को पूरा करता है।
C. अध्यापक केवल पाठ्यपुस्तक को ज्ञान के स्रोत के लिए उपयोग करता है।
D. अध्यापक, बच्चों को उनकी क्षमता के आधार पर वर्गीकृत करता है।

B. अध्यापक लचीला है और प्रत्येक बच्चे की व्यक्तिगत आवश्यकताओं को पूरा करता है।

. भाषा में अर्थ की सबसे छोटी इकाई ……… है।

A. संकेतप्रयोगविज्ञान (प्रेगमैटिक्स)
B. वाक्य
C. रूपिम ‘
D. स्वनिम

Answer –D. स्वनिम

Q. बुद्धि-लब्धांक सामान्यतः …… रूप से शैक्षणिक निष्पादन से संबंधित – होते हैं।

A. कम-से-कम
B. पूर्ण
C. उच्च
D. मध्यम

Answer –C. उच्च

Q. सफल समावेशन को निम्नलिखित की आवश्यकता होती है सिवाय

A. अभिभावकों की भागीदारी
B. क्षमता-संवर्द्धन
C. संवेदनशील बनाना
D. पृथक्करण

D. पृथक्करण

Q. विद्यालय में नियमित उपस्थिति के लिए वंचित बच्चों को प्रोत्साहित करने का निम्नलिखित में से कौन-सा तरीका सर्वाधिक उपयुक्त होगा?

A. विद्यालय द्वारा बच्चों को एकत्रित करने वाले एक व्यक्ति को नियुक्त किया जाए जो प्रतिदिन घरों से बच्चों को लेकर आए
B. बच्चों को आकर्षित करने के लिए प्रतिदिन 5 देना ।
C. आवासीय विद्यालय खोलना
D. बच्चों को विद्यालय आने की अनुमति न देने को कानूनन दंडनीय अपराध बनाया जाए

C. आवासीय विद्यालय खोलना

Q. विद्यालय में लिंग भेदभाव से बचने का सर्वोत्तम तरीका हो सकता है

A. विद्यालय में लिंग-भेदभाव को दूर करने के लिए नियम बनाना और कड़ाई से उसका पालन करवाना
B. संगीत प्रतियोगिता के लिए लड़कियों की अपेक्षा अधिक लड़कों का चयन करना
C. शिक्षकों द्वारा उनके लिंग-पक्षपातपूर्ण व्यवहारों का अधिसंज्ञान
D. पुरुष एवं महिला शिक्षकों को समान संख्या में भर्ती करना

C. शिक्षकों द्वारा उनके लिंग-पक्षपातपूर्ण व्यवहारों का अधिसंज्ञान

Q. एक बच्चा जो……. से ग्रस्त है, यह ‘saw’ और ‘was’, ‘nuclear’ और ‘unclear’ में अंतर नहीं कर सकता।

A. डिस्लेक्सिमिया
B. डिस्मोरफीमिया
C. डिस्लेक्सिया
D. शब्द ‘जंबलिंग’ विकार

C. डिस्लेक्सिया

Q. एक सशक्त विद्यालय अपने शिक्षकों में निम्नलिखित योग्यताओं में से किसे सर्वाधिक बढ़ावा देगा?

A. परीक्षण करने की प्रवृत्ति
B. स्मृति
C. अनुशासित स्वभाव
D. प्रतिस्पर्धात्मक अभिवृत्ति

D. प्रतिस्पर्धात्मक अभिवृत्ति

Q. किशोर …….. का अनुभव कर सकते हैं।

A. आत्मसिद्धि के भाव
B. जीवन के बारे में परितृप्ति के भाव
C. दुश्चिंता और स्वयं से सरोकार
D. बचपन में किए गए अपराधों के प्रति डर के भाव

C. दुश्चिंता और स्वयं से सरोकार

Q. शारीरिक रूप से अक्षम बच्चों को सामान्यतः ……. होता है।

A. डिस्लेक्सिया
B. डिस्माफिया
C. डिस्थीमिया
D. डिस्कैल्कुलिया

Answer –B. डिस्माफिया

Q. लेव वाइगोत्स्की के समाज संरचना सिद्धांत में दृढ़ विश्वास रखने वाले शिक्षक के नाते आप अपने बच्चों के आकलन के लिए निम्नलिखित में से किस विधि को वरीयता देंगे?

A. सहयोगी प्रोजेक्ट . .
B. मानकीकृत परीक्षण
C. तथ्यों पर आधारित प्रत्यास्मरण के प्रश्न
D. वस्तुपरक बहुविकल्पी प्रकार के प्रश्न

Answer –A. सहयोगी प्रोजेक्ट . .

Q. अपनी कक्षा की वैयक्तिक भिन्नताओं से निपटने के लिए शिक्षक – को चाहिए किः

A. शिक्षण और आकलन के समान और मानक तरीके हों
B. बच्चों को उनके अंकों के आधार पर अलग कर उनको नामित करें
C. बच्चों से बातचीत करें और उनके दृष्टिकोण को महत्त्व दें
D. विद्यार्थियों के लिए कठोर नियमों को लागू करें।

Answer –C. बच्चों से बातचीत करें और उनके दृष्टिकोण को महत्त्व दें

Q. राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा (एन.सी.एफ.), 2005 के अनुसार शिक्षक की भूमिका है:
A सत्तावादी
B. अधिनावकीय
C. अनुमतिपरक
D. सुविधादाता

Answer –D. सुविधादाता

Q. अनुसंधान सुझाते हैं कि एक विविध कक्षा में अपने विद्यार्थियों से शिक्षिका की अपेक्षाएँ विद्यार्थियों के आधगमः

A. पर महत्त्वपूर्ण प्रभाव छोड़ती हैं ।
B. का एकमात्र निर्धारक होती हैं
C. के साथ संबंधित नहीं मानी जानी चाहिए
D. पर कोई प्रभाव नहीं छोड़ती

Answer –A. पर महत्त्वपूर्ण प्रभाव छोड़ती हैं ।

Q. सुनने में असमर्थ बच्चाः

A. श्रवण असमर्थता वाले बच्चों के विद्यालय में ही भेजा जाना चाहिए, नियमित विद्यालय में नहीं
B. केवल अकादमिक शिक्षा से लाभ नहीं उठा पाएगा, उसे उसके स्थान पर व्यावसायिक शिक्षा दी जानी चाहिए
C. नियमित विद्यालय में बहुत अच्छा कर सकता है यदि उसे उपयुक्त सुविधा और साधन उपलब्ध कराए जाएँ
D. नियमित विद्यालय में अपने सहपाठियों के समान कभी प्रदर्शन नहीं कर सकेगा

Answer –C. नियमित विद्यालय में बहुत अच्छा कर सकता है यदि उसे उपयुक्त सुविधा और साधन उपलब्ध कराए जाएँ

Q. एक शिक्षिका अपनी प्राथमिक कक्षा में प्रभावी अधिगम को बढ़ा सकती है।

A. अधिगम में छोटी-छोटी उपलब्धियों के लिए पुरस्कार देकर
B. हिल और अभ्यास के द्वारा
C. अपने विद्यार्थियों में प्रतियोगिता को प्रोत्साहन देकर
D. विषयवस्तु को विद्यार्थियों के जीवन के साथ संबंधित करके

Answer –D. विषयवस्तु को विद्यार्थियों के जीवन के साथ संबंधित करके

Q. निम्नलिखित में से कौन-सा उदाहरण प्रभावशाली विद्यालय की प्रथा का है?

A. निरंतर तुलनात्मक मूल्यांकन
B. शारीरिक दंड
C. व्यक्तिसापेक्ष अधिगम
D. प्रतियोगितात्मक कक्षा

Answer –C. व्यक्तिसापेक्ष अधिगम

Q. भाषा विकास के लिए सबसे संवेदनशील समय निम्नलिखित में से कीन-सा है?

A. जन्मपूर्व का समय
B. मध्य बचपन का समय
C. वयस्कावस्था
D. प्रारंभिक बचपन का समय

Answer –D. प्रारंभिक बचपन का समय

Q. एक 6 वर्ष की लड़की खेलकद में असाधारण योग्यता का प्रदर्शन करती है। उसके माता-पिता दोनों ही खिलाड़ी हैं, उसे नित्य प्रशिक्षण प्राप्त करने भेजते हैं और सप्ताहांत में उसे प्रशिक्षण देते हैं। बहुत संभव है कि उसकी क्षमताएँ निम्नलिखित दोनों के बीच परस्पर प्रतिक्रिया का परिणाम होंगीः

A. आनुवंशिकता और पर्यावरण
B. वृद्धि और विकास
C. स्वास्थ्य और प्रशिक्षण
D. अनुशासन और पौष्टिकता

Answer –A. आनुवंशिकता और पर्यावरण

Q. निम्नलिखित में कौन-सी समाजीकरण के गौण वाहक हो सकते हैं?

A. परिवार और पास-पड़ोस
B. विद्यालय और पास-पड़ोस
C. विद्यालय और निकटतम परिवार के सदस्य
D. परिवार और रिश्तेदार

Answer –B. विद्यालय और पास-पड़ोस

Q. लेब वाइगोत्स्की के अनुसार संज्ञानात्मक विकास का मूल कारण

A. संतुलन
B. सामाजिक अन्योन्यक्रिया
C. मानसिक प्रारूपों (स्कीमाज) का समायोजन
D. उद्दीपक-अनुक्रिया युग्मन

Answer –B. सामाजिक अन्योन्यक्रिया

Q. जीन पियाजे के अनुसार अधिगम के लिए निम्नलिखित में से क्या आवश्यक है।

A. शिक्षार्थी के द्वारा पर्यावरण की सक्रिय खोजबीन
B. वयस्कों के व्यवहार का अवलोकन
C. ईश्वरीय न्याय पर विश्वास
D. शिक्षकों और माता-पिता द्वारा पुनर्बलन

Answer –A. शिक्षार्थी के द्वारा पर्यावरण की सक्रिय खोजबीन

Q. जीन पियाजे के अनुसार प्रारूप (स्कीमा) निर्माण वर्तमान योजनाओं के अनुरूप बनाने हेतु नवीन जानकारी में संशोधन और नवीन जानकारी के आधार पर पुरानी योजनाओं में संशोधन के परिणाम के रूप में घटित होता है। इन दो प्रक्रियाओं को जाना जाता है:

A. समायोजन और अनुकूलन के रूप में
B. समावेशन और अनुकूलन के रूप में
C. साम्यीकरण और संशोधन के रूप में
D. समावेशन और समायोजन के रूप में

Answer –D. समावेशन और समायोजन के रूप में

  •  

Q. शिक्षा का अधिकार अधिनियम (2009) के अन्तर्गत निजी विद्यालयों में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों के दाखिले हेतु सीटों के आरक्षण का प्रावधान है। इन छात्रों के सफल समावेशन हेतु, एक अध्यापक को किस तरह के शिक्षा शास्त्र का इस्तेमाल करना चाहिए

A. भेदभावात्मक / discromination
B. अलगावात्मक / segragation
C. साम्यता पर आधारित / equity
D. समानता पर आधारित / equality

Answer –C. साम्यता पर आधारित / equity

Q. राष्ट्रीय पाठ्यक्रम रूपरेखा (2005) के अनुसार-

A. बच्चे शिक्षक द्वारा दी गयी सामग्री के निष्क्रिय प्राप्तकर्ता हैं ।
B. बच्चों में अधिगम को विनियमित करने की क्षमता नहीं होती है।
C. बच्चे रटने के माध्यम से सर्वश्रेष्ठ सीखते हैं।
D. बच्चे ज्ञान के निर्माण में सक्रिय भूमिका निभाते हैं।

Answer –D. बच्चे ज्ञान के निर्माण में सक्रिय भूमिका निभाते हैं।

Q. निम्नलिखित में से कौन-सा उम्र समूह, जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत के ‘मूर्त संक्रियात्मक अवस्था/ चरण’ के समनुरूप है ?

A. जन्म से 2 साल
B. 2-7 साल
C. 7-11 साल
D. 11 साल के ऊपर

Answer –C. 7-11 साल

शिक्षा का अधिकार अधिनियम (2009) के अन्तर्गत निजी विद्यालयों में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों के दाखिले हेतु सीटों के आरक्षण का प्रावधान है। इन छात्रों के सफल समावेशन हेतु, एक अध्यापक को किस तरह के शिक्षा शास्त्र का इस्तेमाल करना चाहिए

A. भेदभावात्मक / discromination
B. अलगावात्मक / segragation
C. साम्यता पर आधारित / equity
D. समानता पर आधारित / equality

Answer –C. साम्यता पर आधारित / equity

राष्ट्रीय पाठ्यक्रम रूपरेखा (2005) के अनुसार

A. बच्चे शिक्षक द्वारा दी गयी सामग्री के निष्क्रिय प्राप्तकर्ता हैं ।
B. बच्चों में अधिगम को विनियमित करने की क्षमता नहीं होती है।
C. बच्चे रटने के माध्यम से सर्वश्रेष्ठ सीखते हैं।
D. बच्चे ज्ञान के निर्माण में सक्रिय भूमिका निभाते हैं।

Answer –D. बच्चे ज्ञान के निर्माण में सक्रिय भूमिका निभाते हैं।

. निम्नलिखित में से कौनसा उम्र समूह, जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत केमूर्त संक्रियात्मक अवस्था/ चरणके समनुरूप है ?

A. जन्म से 2 साल
B. 2-7 साल
C. 7-11 साल
D. 11 साल के ऊपर

Answer –C. 7-11 साल

सीटेट परीक्षा 2023: हर शिफ्ट में पूछे जा रहे है CDP के ये प्रश्न, अभी पढ़ें

Child Development Pedagogy for CTET 2022-23: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा याने सीटेट 28 दिसंबर से शुरू हो चुकी है शिक्षक बनने की चाह रखने वाले 32 लाख से अधिक अभ्यर्थी इस परीक्षा में शामिल होंगें। यदि आप भी इस परीक्षा में शामिल होने जा रहे तो यहाँ हम केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में बाल विकास और शिक्षाशास्त्र से पूछे जाने वाले महत्वपूर्ण सवाल (MCQ on Child Development Pedagogy for CTET) शेयर कर रहे है।

सीटेट परीक्षा की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण CDP के सवाल, अभी पढ़े—Child Development and Pedagogy Question for CTET Exam 2022

Q. Which principle of development suggests that different body systems grow at different rates?/ विकास का कौन-सा सिद्धांत बताता है कि शरीर के विभिन्न तंत्र अलग-अलग दरों पर विकसित होते हैं?

A. शीर्षगामी सिद्धांत

B. समीपदूराभिमुखी सिद्धांत

C. पदानुक्रमित एकीकरण का सिद्धांत

D. प्रणालियों की स्वतंत्रता का सिद्धांत

Ans- D

Q. Developmental changes -/ विकासात्मक परिवर्तन —

A. अत्यधिक अप्रत्याशित हैं।

B. मध्य बाल्यकाल तक बहुत तेजी से होते हैं फिर एक पठार पर पहुँचकर रुक जाते हैं।

C. व्यक्तियों में अलग-अलग दरों पर होता है।

D. सामाजिक-सांस्कृतिक संदर्भ से स्वतंत्र हैं।

Ans- C

Q. In Lev Vygotsky’s theory, physical items such as calculator, computer as well as intellectual frameworks such as language are called -/ लेव वायगोत्स्की के सिद्धान्त में भौतिक वस्तुएं जैसे – कैल्कुलेटर, कंप्यूटर के साथ-साथ बौद्धिक ढाँचे जैसे – भाषा क्या कहलाते हैं? 

A. आलंकारिक सामग्री

B. सांस्कृतिक उपकरण

C. अवधारणा मानचित्र

D. स्मृति सहायक

Ans- B

Q. When a young child sees a Camel for the first time she calls it ‘lumpy horse’. In Piagetian theory this is an example of -/ जब कोई छोटी बच्ची ऊँट को पहली बार देखती है तो वह उसे ऊंची पीठ वाला घोड़ा कहती है। पियाजे के सिद्धांत में यह किसका उदाहरण है?

A. संरक्षण

B. केन्द्रीकरण

C. जीववाद

D. समावेशन

Ans- D

Q. Which of the following pair is a correct pair of Piagetian stage and its characterstic/ निम्नलिखित में से कौन-सा पियाजे द्वारा दिया गया चरण और विशेषता का सही युग्म है?

A. चरण- अमूर्त संक्रियात्मक अवस्था; विशेषता परिकल्पनात्मक-निगमनात्मक सोच

B. चरण- संवेदी-चालक अवस्था; विशेषता- प्रतीकात्मक सोच

C. चरण- पूर्व संक्रियात्मक अवस्था; विशेषता संरक्षण

D. चरण मूर्त संक्रियात्मक अवस्था; विशेषता- अमूर्त तर्क

Ans- A

Q. Which of the following characterizes a progressive classroom?/ निम्नलिखित में से कौन-सी एक प्रगतिशील कक्षा की विशेषता है?

A. सामग्री केवल प्रदर्शन के लिए है।

B. बैठने की व्यवस्था तय है।

C. औपचारिक परीक्षा के माध्यम से वर्ष के अंत में बच्चों का मूल्यांकन किया जाता है।

D. शिक्षिका बच्चों को अवधारणात्मक समझ को सक्षम करने के लिए सीखने के अवसर प्रदान करती है।

Ans- D

Q. To facilitate students’ learning of a concept, a teacher should -/ विद्यार्थियों में एक सम्प्रत्यय के अधिगम को सुसाध्य करने के लिए, एक शिक्षक को निम्न में से क्या करना चाहिए?

A. नई जानकारी और पिछले ज्ञान के बीच संबंध बनाने से बचें।

B. नियमों को समझने और अवधारणा की विशेषताओं को परिभाषित करने पर ध्यान दें।

C. विषयवस्तु से संबंधित आवश्यक और गैर-आवश्यक जानकारियों को मिश्रित कर

D. सामग्री और जानकारी को अत्यधिक मूर्त और जटिल रूप में प्रस्तुत करें।

Ans- B

Q. Moral reasoning is based on the understanding of ideal reciprocity- the Golden rule in – which the individuals wants to maintain the approval of others at which stage in Kohlberg’s theory of moral development?/ नैतिक तर्क आदर्श पारस्परिकता की समझ पर आधारित है- स्वर्णिम नियम जिसमें व्यक्ति कोहलबर्ग के नैतिक विकास के सिद्धांत में किस स्तर पर दूसरों की स्वीकृति बनाए रखना चाहते हैं?

A. सजा और आज्ञाकारिता अभिविन्यास

B. सामाजिक अनुबंध अभिविन्यास

C. सार्वभौमिक नैतिक सिद्धांत अभिविन्यास

D. अच्छा लड़की-अच्छी लड़की अभिविन्यास

Ans- D

Q. Physical development of children -/ बच्चों का के शारीरिक विकास –

A. में केवल मात्रात्मक परिवर्तन होते हैं।

B. में केवल गुणात्मक परिवर्तन होते हैं।

C. की सटीकता से विकासात्मक प्रतिमानों से तुलना करके भविष्यवाणी की जा सकती है।

D. एक व्यवस्थित और अनुक्रमिक तरीके से होता है, लेकिन अलग-अलग बच्चों के विकास की दर अलग-अलग होती है।

Ans- D

Q. A teacher wants to facilitate comprehension skills among her students. Which of the following should be avoided by her for this purpose?/ एक शिक्षिका अपने विद्यार्थियों में बोध कौशल को सुसाध्य करना चाहती है। इस उद्देश्य के लिए उसे निम्नलिखित में से किस से बचना चाहिए?

A. संकल्पना मानचित्रण

B. संदर्भहीनता

C. रूपरेखीकरण

D. सारांशीकरण

Ans- B

Q. Which of the following factors is not responsible for students’ failure in academic performance/निम्नलिखित में से कौन सा कारक अकादमिक प्रदर्शन में विद्यार्थियों की सफलता के लिए जिम्मेदार नहीं है?

A. बोरियत

B. तनाव

C. जिज्ञासा

D. भय

Ans- C

Q. While teaching a concept, a teacher is giving an example that has the most important “core” features of the category associated with that concept such an example is called -/ एक सम्प्रत्यय को पढ़ाते समय, एक शिक्षक एक ऐसा उदाहरण दे रहा है जिस में उस सम्प्रत्यय से जुड़ी श्रेणी की सब से महत्त्वपूर्ण “मूल” विशेषताएं हैं। ऐसे उदहारण को ———— कहा जाता है।

A. एक भ्रान्ति

B. एक गैर-उदहारण

C. एक आद्यरूप

D. एक अपवाद

Advertisement

Ans- C

Q. By encouraging students to reflect on their cognitive abilities to reach a specified goal, a teacher is facilitating the development of:/ एक निर्दिष्ट लक्ष्य तक पहुँचने के लिए विद्यार्थियों को उनकी संज्ञानात्मक क्षमताओं पर चिंतन करने के लिए प्रोत्साहित करके, एक शिक्षक निम्नलिखित के किस के विकास को सुगम बना रहा है?

A. घोषणात्मक ज्ञान 

B. प्रतिक्रियात्मक ज्ञान

C. अधिससंज्ञा

D. रट कर याद रखना

Ans- C

  •  

यहाँ हमने आगामी सीटीईटी परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थीयो के लिए CTET परीक्षा में CDP से पूछे गए महत्वपूर्ण सवाल (MCQ on Child Development Pedagogy for CTET) विषय के महत्वपूर्ण सवालों का अध्ययन किया है CTET सहित सभी शिक्षक पात्रता परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए आप हारे TELEGRAM CHANNEL के सदस्य जरूर बने Join Link नीचे दी गई है?

 Math pedagogy in Hindi MCQ

1.प्रिया गणितीय प्रश्‍न करने में निपुण है उसमें किस प्रकार की बहुबौद्धिकता की अधिकता है 

  1. भाषायी बुद्धि 
  2. तार्किक बुद्धि 
  3. अन्‍तर्वैयक्तिक बुद्धि 
  4. मनोगत्‍यात्‍मक बुद्धि 

उत्तर -2 तार्किक बुद्धि

2.वस्‍तुनिष्‍ठ परीक्षण की सर्वाधिक महत्‍वपूर्ण विशेषता है 

  1. विश्‍वसनीयता 
  2. वैधता 
  3. वस्‍तुनिष्‍ठता 
  4. ये सभी 

उत्तर -1 विश्‍वसनीयता

3.सर्वाधिक प्रभावशाली शिक्षण सामग्री है

  1. अप्रक्षेपित 
  2. प्रत्‍यक्ष अनुभव 
  3. प्रक्षेपित 
  4. इनमें से कोई नही 

उत्तर – 2 प्रत्‍यक्ष अनुभव

4.मूल्‍यांकन का निकटतम संबंध होता है  

  1. 2 विषयवस्‍तु से  
  2. मूल्‍यांकन प्रविधियों से 
  3. उद्देश्‍यो से 
  4. सीखने की क्रियाओ से 

उत्तर – 3 उद्देश्‍यो से

5. अंकगणित की चार मूलभूत संक्रियाऍं है  

  1. योग, भाग, परिणाम, और क्षेत्रफल ज्ञात करना 
  2. परिकलन , संगणना, रचना करना और समीकरण बनाना 
  3. योग , गुणा, भिन्‍नो को दशमलव में बदलना और सम आकृतियों की रचना करना 
  4. योग, व्‍यवकलन, गुणा और भाग 

उत्तर – 4 योग, व्‍यवकलन, गुणा और भाग

6. किसी प्रकार के मूल्‍यांकन का मुख्‍य अभिप्राय विद्यार्थियों को फीडबैक देना है 

  1. रचनात्‍मक मूल्‍यांकन 
  2. निदानात्‍मक मूल्‍यांकन 
  3. सारांशात्‍मक मूल्‍यांकन 
  4. भविष्‍यात्‍मक मूल्‍यांकन 


उत्तर – 1 रचनात्‍मक मूल्‍यांकन

7. निम्‍नलिखित में से कौन सा संख्‍या की समझ का महत्‍वपूर्ण्‍ पहलू नही है ?

  1. पंक्तिबद्धता 
  2. गणना 
  3. अंक लिखना 
  4. संरक्षण 


उत्तर – 4 संरक्षण

8. राष्‍ट्रीय पाठ्यचर्या रूपरेखा 2005 के अनुसार विद्यालय में गणित शिक्षण का संकीर्ण उद्देश्‍य है ?

  1. रैखिक बीजगणित से संबंधित दैनिक जीवन की समस्‍याओ की शिक्षा 
  2. संख्‍यात्‍मक कौशलो का विकास 
  3. बीजगणित पढाना 
  4. परिकलन व मापन पढाना 


उत्तर – 2 संख्‍यात्‍मक कौशलो का विकास

9. गणित की शिक्षा का मुख्‍य ध्‍येय है 

  1. ज्‍यामिति के प्रमेयो और उनके प्रमाणो का स्‍वतंत्र रूप से सृजन करना 
  2. विद्यार्थियो को गणित समझने में सहायता करना 
  3. उपयोगी क्षमताओ को विकसित करना 
  4. बच्‍चो की गणितीय प्रतिभाओ का विकास करना 


उत्तर – 4 बच्‍चो की गणितीय प्रतिभाओ का विकास करना

10. निम्‍न में से कौन सा खुला अंत वाला प्रश्‍न है  

  1. आप 15 को 3 से गुणा किस प्रकार करेगें 
  2. कोई दो संख्‍याऍं लिखिए जिनका गुणनफल 45 हो 
  3. संख्‍या रेखा का प्रयोग करते हुए 3 बार 15 का मान ज्ञात कीजिए 
  4. 15 X 3 का मान ज्ञात कीजिए 


उत्तर – 1 – आप 15 को 3 से गुणा किस प्रकार करेगें

11.उपलब्धि परीक्षण एवं नैवनिक परीक्षण में अंतर है

  1. उद्देश्‍यों का
  2. प्रकृति का
  3. कठिनाईयों स्‍तर का
  4. इनमे से कोई नही


उत्तर – 1 -उद्देश्‍यों का

12.सर्वाधिक प्रभावशाली शिक्षण सामग्री है

  1. अप्रक्षेपित
  2. प्रत्‍यक्ष अनुभव
  3. ्प्रक्षेपित
  4. इनमें से कोई नही


उत्तर – 2 – प्रत्‍यक्ष अनुभव

13.कौन सा कार्य अध्‍यापक नही है

  1. योजना
  2. मार्गदर्शन
  3. शिक्षण
  4. बजट बनाना


उत्तर – 4 – बजट बनाना

14.यदि एक शिक्षार्थी पूर्णाकों , भिन्‍नो और दशमलब संख्‍याओं पर चारों आधारभूत संक्रियाऍं सम्‍पन्‍न करने में समर्थ है तो वह –

  1. विभाजनात्‍मक अवस्‍था में
  2. उपादान अवस्‍था में
  3. संक्रियात्‍मक अवस्‍था में
  4. परिमाणात्‍मक अवस्‍था में


उत्तर – 3 – संक्रियात्‍म्‍क अवस्‍था में

15.प्राथमिक स्‍तर के बच्‍चे दी गई आकृतियों को उनकी दिखावट के आधार पर वर्गीकृत करने के योग्‍य हे वेन हाइल के अनुसार वे ज्‍यामिति के ……पर है

  1. मानसिक चित्रण स्‍तर
  2. विश्‍लेषणात्‍मक स्‍तर
  3. अनौपचारिक निगमन स्‍तर
  4. औपचारिक निगमन स्‍तर


उत्तर – 1 – मानसिक चित्रण स्‍तर

16.कई बच्‍चो को 44 लिखने के लिए कहने पर ग्रेड 2 के कुछ छात्रो ने इसे 404 लिखा एक शिक्षक के रूप्‍ मे आप इसे कैसे संबोधित करेगे ?

  1. उनकी प्रतियो में उनके उत्‍तर को सही करे
  2. ठोस सामग्री का उपयोग करके विनिमय के सिध्‍दांत को समझाए
  3. उन्‍हे उन लोगो के साथ समूहित करे जिन्‍होने इसे सही ढंग से किया है
  4. उन्‍हे सही उतर का पता लगाने के लिए कहे


उत्तर – 2 -ठोस सामग्री का उपयोग करके विनिमय के सिध्‍दांत को समझाए

17.निम्‍नलिखित में से कौन सा गणित में कम करने के कारक हो सकता है ?

  1. जेंडर
  2. सामाजिक –सांस्‍कृतिक पृष्‍ठभूमि
  3. गणित की प्रकृति
  4. व्‍यक्ति की क्षमता


उत्तर – 2- सामाजिक –सांस्‍कृतिक पृष्‍ठभूमि

18.प्राथमिक विघालय के बच्‍चो को गणित पढाने समय पाठ योजना बनाने का सबसे महत्‍वपूर्ण पहलू निम्‍नलिखित में से कौन सा है ?

  1. पाठय पुस्‍तक के अनुक्रम के बाद
  2. संरचित तरीके से गणितीय अवधारणो को पुस्‍तुत करना
  3. छात्रो को अवधारणो के निर्माण की अनुमति देने के अवसर प्रदान करना
  4. लेखन गति‍विधियो ओर संदर्भ के लिए प्रश्‍न


उत्तर -3- छात्रो को अवधारणो के निर्माण की अनुमति देने के अवसर प्रदान करना

19.निम्‍निलिखित मेंसे कौन रचनावादी गणित कक्षा की विशेषता नही माना जा सकता है ?

  1. गणित सीखने में भाषा और संवाद की भूमिका पर ध्‍यान दिया जाता है
  2. शिक्षक स्‍वीकार करता है कि छात्र दिए गए इंटरैक्‍शन से कई समझ बना सकता है
  3. उद्देश्‍य प्रकार परीक्षण वस्‍तुओ का उपयोग मूल्‍यांकन के प्राथमिक साधन के रूप्‍ में किया जाता है
  4. गणित और अन्‍य पाठ य क्षेत्रो के बीच संपर्क पर प्रकाश डाला गया है


उत्तर – 3-उद्देश्‍य प्रकार परीक्षण वस्‍तुओ का उपयोग मूल्‍यांकन के प्राथमिक साधन के रूप्‍ में किया जाता है

20.निम्‍नलिखित में से कक्षा में हो रहे कौन सा कार्य एक गतिविधि है ?

  1. बच्‍चों द्वारा श्‍यामपट्ट से नकल करना
  2. बच्‍चो का अन्‍वेषण में लगना
  3. शिक्षक समझते है कि, प्रश्‍न कैसे हल करें
  4. बच्‍चो द्वारा कविता के रूप में गिनती का वाचन


उत्तर – 2-बच्‍चो का अन्‍वेषण में लगन

To download full pdf click on the below link and download CTET CDP 2023 Important Questions


Discover more from

Subscribe to get the latest posts to your email.

3 thoughts on “बाल विकास और शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण प्रश्न- उत्तर | Top-100 Child Development & Pedagogy Questions for CTET”

  1. Thanku supreme Tutorials apki wajah se mere CTET me 132 marks aaye .
    Apke dwara bataye huye sare important questions bahut kaam aaye .Thanku so much..

  2. रूही मिश्रा

    सीटेट पैडागोजी में महत्वपूर्ण बिंदुओं को बुलेट फॉर्म में निम्नलिखित रूप में दर्शाया जा सकता है:

    – शिक्षा का मतलब और परिभाषा
    – उद्देश्य और लक्ष्य
    – अधिगम और शिक्षा की प्रक्रिया
    – शिक्षा में समावेश
    – शिक्षा में विषयों का चयन
    – शिक्षा में मूल्यांकन की प्रक्रिया
    – शिक्षा में तकनीकी उपकरणों का उपयोग
    – शिक्षा में नैतिक मूल्यों का समावेश
    – विद्यार्थी केंद्रित शिक्षा की प्रक्रिया
    – शिक्षा में सहयोगी अधिकारियों की भूमिका

    कृपया इसे यदि आप अगले post में जरूर बताएं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

Scroll to Top
Capture your favorite moments with these videography tips Tips for living green daily Power of Sleep: Your Ultimate Guide to Restful Nights and Rejuvenated Days” Trendy Summer outfits that will keep you healthy and fit . Beginner guide to baking bread